Breaking News:

पिछली खबर

राजनीति खेला होबे गाने का मतलब हिंसा नहीं जन मुद्दों को लेकर आवाज बुलंद करना है
11.13

अगली खबर

देश भरूच के झगड़िया GIDC में मध्यरात्रि UPL कंपनी में लगी आग, 7 लोग लापता, 20 से अधिक लोग घायल

Share

राजनीति तृणमूल ने लगाया आरोप पीएम मोदी के हेलीपैड के लिए काटे गए पेड़ , भाजपा ने किया पलटवार कहा -आरोप बेबुनियाद

हुगली: भले ही विधानसभा चुनाव की अब तक कोई औपचारिक घोषणा नहीं हुई हो लेकिन पश्चिम बंगाल में सियासी पारा तेज होते जा रहा है । 22 फरवरी को पीएम मोदी ने डनलप ग्राउंड में जनसभा की तो 24 तारीख को प्रदेश की मुख्यमंत्री ठीक उसी स्थान पर जनसभा करेंगी ।


पश्चिम बंगाल में विधानसभा चुनाव से पहले भाजपा और टीएमसी में ठनी है, दोनों ही पक्ष एक-दूसरे पर हमला बोलने से नहीं कतराते ऐसे में पीएम मोदी की सभा के बाद सभा स्थल में बनाए गए हेलीपैड पर मंगलवार को वृक्षारोपण किया गया । पीएम मोदी की जनसभा से ठीक 1 दिन बाद हुगली जिले के डनलप शाहगंज फुटबॉल मैदान में आज टीएमसी के तरफ से वृक्षारोपण किया गया। इस दौरान टीएमसी समर्थकों ने हाथ में मोदी आने पर विनाश और ममता आने पर सृष्टि की रचना लिखी तख्तियां हाथ में लेकर वृक्षारोपण किया, जिस जगह पर पीएम मोदी के लिए हेलीपैड बनाया गया था उस जगह पर वृक्ष लगाए गए ।

तृणमूल विधायक असित मजुमदार ने मंगलवार को चुंचुरा डनलप मैदान में पेड़ लगाए। उन्होंने आरोप लगाया कि पीएम मोदी के हेलीपेड स्थल पर लगे कुछ पेड़ काट दिए गए । नतीजतन प्रकृति का संतुलन गड़बड़ा गया है । यही कारण है कि तृणमूल कार्यकर्ताओं ने आज जिस जगह में हेलिपेड़ बनाया था, वहां पेड़ लगाए। उन्होंने कहा कि भाजपा ने पेड़ नष्ट कर दिया है और हम पर्यावरण को बचाने के लिए वृक्षारोपण कर रहे हैं । 

उन्होंने यह भी कहा कि वह पर्यावरण विभाग से अपील करेंगे की इस मामले में भाजपा को नोटिस दें। हालांकि भाजपा युवा मोर्चा के नेता सुरेश साव ने दावा किया कि आरोप निराधार है।  प्रधानमंत्री की हेलीकॉप्टर की सुरक्षा के लिए पेड़ की शाखाओं की छंटनी की गई थी, लेकिन कोई पेड़ नहीं काटा गया। छंटाई और कटाई में अंतर है।

पश्चिम बंगाल हुगली जिला से संवाददाता जय चौधरी ।


Related Post

Comment

Leave a comment